Thu. Apr 25th, 2024
  • राजनीति से भी पहले आपसी भाईचारा है, वह हमेशा कायम रहना चाहिए

एकता ज्योति संवाददाता
गाजियाबाद। गुरूद्वारा सिंह सभा बजरिया के प्रधान, लोकदल व पंजाबी समाज के वरिष्ठ नेता सरदार इंद्रजीत सिंह टीटू ने आरएसएस-बीजेपी व लोकदल कार्यकतार्ओं के बीच हुए विवाद में समझौते का स्वागत किया है। यह समझदारी भरा सराहनीय कार्य है। इंद्रजीत सिंह टीटू ने कहा कि गाजियाबाद का आपसी भाईचारा सभी के लिए मिसाल बना हुआ है। हमारे गाजियाबाद का इतिहास रहा है कि सभी पार्टियों के नेताओं का एक दूसरे के यहां सुख-दुख में आना जाना बना रहता है। इसकी मिसाल पूरे उत्तर प्रदेश में दी जाती है। ऐसे में इस विवाद के कारण गाजियाबाद की इस छवि पर आंच आ सकती थी, मगर दोनों पार्टी के संभ्रांत साथी आपस में बैठे और मिलकर इस विवाद को खत्म करने का काम किया। इसकी जितनी सराहना की जाए उतनी कम है। सत्ताधारी पार्टी के नेताओं को इस हादसे से सीख लेनी चाहिए कि सत्ता तो आती जाती रहती है, मगर भाईचारे से बड़ी कोई चीज नहीं है। ऐसे विवादों में एक-दूसरे के समाज के प्रति निंदनीय शब्द का प्रयोग करने से सबको बचना चाहिए और भाईचारा हमेशा कायम रखना चाहिए। हमें आपस में एक दूसरे को किसी राजनीतिक दल से ना जोड़कर आपसी भाईचारा बढ़ाने की तरफ ज्यादा ध्यान देना चाहिए।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.